सऊदी की राजकुमारी और उनकी बेटी रि’हा, प्रिंसेस बासमा बिन्त सऊद को बिना आरो’प 3 साल हिरा’सत में

0
738

सऊदी अधिकारियों ने राजकुमारी बासमा बिन्त सऊद और उनकी बेटी को रि’हा कर दिया है। उन्हें लगभग तीन साल तक बिना किसी आ’रोप के जे’ल में रखा गया। एक मानवाधिकार समूह ने शनिवार को इसकी जानकारी दी।

न्यूज एजेंसी एएफपी के मुताबिक 57 साल की बासमा बिन्त सऊद शाही परिवार की सदस्य हैं। वह महिला अधिकारों और संवैधानिक राजतंत्र की समर्थक मानी जाती हैं। उन्हें मार्च 2019 में हिरा’सत में लिया गया था। किंग सलमान और क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान ने उन्हें हेल्थ ग्राउंड पर रि’हा करने का आदेश दिया है।


ह्यूमन राइट्स समूह ALQST ने ट्विटर पर बताया, “बासमा बिन्त सऊद अल सऊद और उनकी बेटी सुहौद … को रि’हा कर दिया गया है। उन्हें जरूरत पड़ने पर स्वास्थ्य सुविधाएं नहीं मिली जबकि उनकी हालत काफी खराब थी। हिरा’सत में रखने के दौरान उन पर कोई आरो’प नहीं लगाया गया।” सऊदी के अधिकारी इस मामले पर टिप्पणी के लिए उपलब्ध नहीं थे।

परिवार के करीबी एक सूत्र के मुताबिक, राजकुमारी बासमा को इलाज के लिए स्विट्जरलैंड जाने से कुछ समय पहले गि’रफ्ता’र किया गया था। हालांकि उन्हें क्या बीमारी है, इसका कभी खुलासा नहीं हुआ।

किंग सलमान ने अपने बेटे प्रिंस मोहम्मद को जून 2017 में अपना उत्तराधिकारी घोषित किया था। इसके पहले मोहम्मद बिन नायेफ को उत्तराधिकारी नामित किया गया था। प्रिंस मोहम्मद सऊदी में सुधार कार्यक्रम चला रहे हैं। इसमें महिलाओं को कार चलाने की अनुमति देने और महिलाओं का पुरुष अभिभावक होने की अनिवार्यता खत्म करने जैसे सुधार शामिल हैं।

इन सब सुधारों के बावजूद सऊदी अधिकारियों ने असंतुष्टों और यहां तक कि संभावित वि’रोधि’यों पर भी शिकंजा कसा है। जिन पर शिकंजा कसा गया उनमें महिला अधिकार कार्यकर्ताओं तक, यहां तक कि शाही परिवार के सदस्य भी शामिल हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here