अलवर हत्याकांड पर बोले ओवैसी: ‘राजस्थान पुलिस गौरक्षकों का दे रही साथ’

आल इंडिया मजलिस ए इत्तेहादुल मुस्लिमीन (AIMIM) अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी ने मानसून सत्र के दौरानअलवर मॉब लिंचिंग का मुद्दा उठाया। उन्होने कहा कि राजस्थान पुलिस गौरक्षकों का समर्थन कर रही है।

ओवैसी ने कहा, राजस्थान पुलिस की कार्रवाई पर मुझे कोई हैरत नहीं है। उन्होंने पहलू खान मर्डर केस में ऐसा ही किया था। राजस्थान पुलिस गौरक्षकों का समर्थन कर रही है। पुलिस और गौरक्षक आपस में मिले हुए है।

https://twitter.com/ANI/status/1021276846401318917

इससे पहले ओवैसी ने कहा था कि संविधान के तहत मुस्लिमों को नहीं बल्कि गायों को जीने का नैतिक अधिकार मिला हुआ है। उन्होंने मोदी सरकार पर हमला बोलते हुए ट्वीट कर लिखा, ‘गाय को संविधान के अनुच्छेद 21 के तहत जीने का नैतिक अधिकार है और एक मुस्लिम को मारा जा सकता है क्योंकि उनके ‘जीने’ का नैतिक अधिकार नहीं है। मोदी शासन के चार साल- लिंच राज।’

बता दें कि मृतक अकबर उर्फ़ रकबर पुत्र सुलेमान अपने साथी के साथ गायों को लेकर लालामंडी रामगढ़ से पैदल जा रहे थे। तभी रास्ते में कथित गौ रक्षकों के साथ ग्रामीणों ने उनकी पिटाई कर दी। इस दौरान अकबर का एक साथी तो भाग निकला, लेकिन अकबर भीड़ के हत्थे चढ़ गया। सूचना के बाद पुलिस ने अकबर को अस्पताल में भर्ती कराया था, जहां उसकी मौत हो गई।


    देश के अच्छे तथा सभ्य परिवारों में रिश्ता देखें - Register FREE