म्यांमार की अदालत ने नोबेल विजेता आंग सान सू की को 4 साल की सुनाई स’जा

0
775

म्यांमार की एक विशेष अदालत ने देश की अपदस्थ नेता आंग सान सू की को सेना के खिला’फ लोगों को उकसाने और कोरोना वायरस संबंधी प्रतिबंधों का उल्लं’घन करने का दोषी पाते हुए सोमवार को चार साल कै’द की स’जा सुनाई। 76 साल की नोबेल पुरस्कार विजेता आंग सान सू की पर भ्रष्टाचार सहित कई अन्य आ’रोपों में भी मुकदमे चल रहे हैं।

सोमवार को उन्हें सेना के खिला’फ असंतोष भड़’काने और कोविड नियमों का उल्लं’घन करने के मामलों में स’जा सुनाई गई। इसी साल एक फरवरी को म्यांमार की सेना के देश पर कब्जा करने के बाद सू की को हिरा’सत में ले लिया गया था। विशेष अदालत ने सू के खिला:फ पहला फैसला सुनाया, जिसमें उन्हें लोगों को उक’साने और कोरोना वायरस प्रति’बंधों का उल्लं’घन करने का दो’षी पाया गया।

विज्ञापन

यह स’जा देश की सत्ता पर एक फरवरी को सत्ता पर सेना के कब्जा करने के बाद से नोबेल पुरस्कार विजेता पर चलाए जा रहे कई मुकदमों में से पहले मामले में मिली है। सैन्य तख्ता’पलट ने उनकी नेशनल लीग फॉर डेमोक्रेसी पार्टी की सरकार को अपना दूसरा पांच साल का कार्यकाल शुरू करने से रोक दिया था। उनके खिला’फ एक अन्य मामले में फैसला अगले सप्ताह आने की उम्मीद है।

अगर वह सभी मामलों में दो’षी पाई जाती हैं, तो उन्हें 100 साल से अधिक की जेल की स’जा हो सकती है। कानूनी अधिकारी ने कहा कि अदालत ने सोमवार को यह स्पष्ट नहीं किया कि सू की को इनके लिए जेल भेजा जाएगा या उन्हें नजरबंद रखा जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here