ईरान के बाद अब भारत करेगा तुर्की से इन चीज़ों का आयात, बढ़ते दाम पर लग रही है लगाम

0
1051

सरकार की तरफ से वाशी स्थित आलू-प्याज की मंडी में नाफेड (सरकारी) प्याज भेजा जा रहा है। हालांकि, कीमतों में गिरावट नहीं आ रही है। वहीं, कुछ व्यापारियों ने मुनाफा कमाने के लिए ईरान के बाद अब तुर्की से प्याज का आयात किया है। मंडी में 21,917 बोरी प्याज की आवक हुई, जिनमें से 1,500 बोरी तुर्की से आई हैं। तुर्की का प्याज थोक में 15 से 21 रुपये प्रति किलो बेचा जा रहा है।

बता दें कि वाशी स्थित आलू-प्याज मंडी में एक महीना पहले तक प्याज की कीमत 35 रुपये किलो के पार थी। इसे देखते हुए व्यापारियों ने थोक दाम 40 रुपये किलो के पार जाने का अनुमान लगाया था। इसी बात को ध्यान में रखते हुए थोक कारोबार करने वाले कुछ व्यापारियों ने मुनाफा कमाने के इरादे से ईरान से 480 टन प्याज का आयात किया था, जिसे थोक में 20 से 30 रुपये प्रति किलो बेचा गया।

अब तुर्की से प्याज का आयात किया गया है। देसी-विदेशी प्याज आने से अब दाम में लगातार गिरावट आने का सिलसिला अब शुरू हो गया है। एपीएमसी थोक मंडी में प्याज व्यापारी मनोहर तोतलानी के अनुसार, सबसे हल्के दर्जे का देसी प्याज 3 रुपये प्रति किलो बेचा गया, जबकि ईरान से आया हल्के दर्जे का प्याज 5 रुपये प्रति किलो।

विज्ञापन

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here