जनता दरबार में शिक्षिका ने सीएम को बोले अपशब्द, कर दिया सस्पैंड

देहरादून में आयोजित किए गए जनता दरबार में मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत के लिए उस समय स्थिति असहज हो गई जब एक महिला शिक्षक ने अपने ट्रांसफर को लेकर उन्हे अपशब्द बोले।

उत्तरकाशी जिले की प्राइमरी शिक्षिका पिछले 25 सालों से नौकरी कर रही है। विधवा होने वह अपने बच्चों को अकेले पाल रही है। ऐसे मे उन्होने देहरादून ट्रांसफर की मांग की थी। वह फिलहाल दुर्गम मे तैनात है।

महिला शिक्षिका के निवेदन पर मुख्यमंत्री ने सिर्फ आश्वासन दिया। जिसके बाद वह भड़क उठी और हंगामा कर दिया।  जिससे गुस्साए मुख्यमंत्री ने शिक्षिका को सस्पेंड करने के आदेश दे दिए।

फिर भी शिक्षिका रुकी नहीं तो फोर्स बुलाकर शिक्षिका को जनता दरबार से बाहर कर दिया गया। वहां भी उनका चिल्लाना और मुख्यमंत्री को अपशब्द कहना जारी रहा। जिसके बाद शिक्षिका को गिरफ्तार कर लिया गया।


    देश के अच्छे तथा सभ्य परिवारों में रिश्ता देखें - Register FREE