लॉकडाउन के बीच हुआ फोन पर निकाह, विदाई की रस्म होगी बाद में

हरदोई: कोरोना वायरस के चलते जारी लॉकडाउन के बीच उत्तर प्रदेश के हरदोई में फोन पर डिजिटल निकाह का मामला सामने आया है। जहां फोन पर निकाह संपन्न हुआ। हालांकि विदाई की रस्म अब बाद में होगी।

शहर कोतवाली क्षेत्र निवासी दूल्हे का कहना है कि जब लॉकडाउन खुलेगा तब वह अपनी शरीक-ए-हयात (बीवी) को अपने घर लाएगा। शहर के कन्हई पुरवा के रहने वाले हामिद का निकाह हरदोई से 15 किलोमीटर दूर टड़ियावां कस्बे में रहने वाली महजबीन से 25 मार्च को होना तय था, लेकिन कोरोना वायरस के चलते पूरा देश लॉकडाउन हो गया। ऐसे हालात में बारात का जाना संभव नहीं था और भीड़भाड़ करने से वायरस के फैलने का खतरा भी बना रहता इसलिए इन्होंने फोन पर ही निकाह करने का अनोखा फैसला लिया।

इसमें बाकायदा काजी साहब ताहिर शरीक हुए और उन्होंने फोन पर ही दोनों का निकाह करवा दिया। अब हामिद और महजबीन मियां-बीवी हैं और निकाह के पवित्र रिश्ते में बंध गए हैं। देश में फोन पर तलाक देने के किस्से तो सुनने को मिलते थे, लेकिन इस तरह निकाह का शायद ही कोई दूसरा उदाहरण देखने को मिला हो। वहीं हामिद का कहना है कि जैसे ही लॉकडाउन खुलेगा वह अपनी पत्नी को घर ले आएंगे।

प्रदेश में एक और व्यक्ति नोवेल कोरोना वायरस पॉजिटिव मिला है। यह व्यक्ति पीलीभीत का है। इसकी मां को भी कोरोना वायरस संक्रमण है और उसका इलाज केजीएमयू में चल रहा है। प्रदेश में इस नए संक्रमित व्यक्ति को मिलाकर पॉजिटिव लोगों की संख्या 38 हो गई है।

राज्य संक्रामक रोग निदेशालय के संयुक्त निदेशक डॉ. विकासेंदु अग्रवाल के अनुसार बुधवार को कोरोना वायरस के संदिग्ध लक्षणों वाले 73 लोगों को विभिन्न अस्पतालों में भर्ती कराया गया है। अभी तक कुल 1830 नमूने जांच के लिए विभिन्न लैब में  भेजे गए हैं। इनमें से 1707 की रिपोर्ट निगेटिव आई है, 85 नमूनों की रिपोर्ट आना अभी बाकी है।


    देश के अच्छे तथा सभ्य परिवारों में रिश्ता देखें - Register FREE