Home उत्तर प्रदेश दलित उत्पीड़न से नाराज़ होकर इटावा के सांसद ने लिखा पीएम मोदी...

दलित उत्पीड़न से नाराज़ होकर इटावा के सांसद ने लिखा पीएम मोदी को खत

111
SHARE

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की सरकार में उनके अपने ही उनके विरोधी बन रहें है. योगी सरकार के बर्ताव से उनके अपने दलित सांसद नाराज हैं. दलित उत्पीड़न से नाराज़ होकर इटावा के सांसद अशोक दोहरे ने पीएम नरेंद्र मोदी को खत लिखा और अपनी नाराज़गी ज़ाहिर की है.

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, इटावा से बीजेपी सांसद अशोक दोहरे ने पीएम मोदी को खत लिखकर कहा है कि पिछले दिनों SC-ST ऐक्ट को लेकर हुए प्रदर्शन के बाद पुलिस दलित समुदाय के लोगों को झूठे केस बनाकर उन्हें गिरफ्तार कर रही है.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

इटावा के सांसद अशोक दोहरे ने बताया कि, 2 अप्रैल को जहां-जहां SC-ST ऐक्ट को लेकर प्रदर्शन हुए, उसके बाद पुलिस वहां खासकर उत्तर प्रदेश में जाकर कई लोगों पर झूठे केस बनाकर उन्हें गिरफ्तार कर रही है. “मैंने इस मामले से नाराज़ होकर पीएम मोदी को पत्र भी लिखा है.”

आपको बता दें कि, इससे पहले गुरुवार को यूपी के रॉबर्ट्सगंज से बीजेपी के दलित सांसद छोटेलाल खरवार ने पीएम नरेंद्र मोदी को खत लिखकर सीएम योगी आदित्यनाथ की शिकायत की थी.

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, उन्होंने कहा कि जिले अधिकारी उनका उत्पीड़न कर रहे हैं. साथ ही बीजेपी के दलित सांसद ने यह भी दावा किया कि जब उन्होंने इस मामले में सीएम योगी से मुलाकात करके शिकायत की तो सीएम ने उन्हें डांटकर भगा दिया. सांसद के खत में यूपी प्रशासन द्वारा उनके घर पर जबरन कब्जे और उसे जंगल की मान्यता देने की शिकायत की गई है.

Loading...