सीएम योगी का निर्देश – सुबह साढ़े नौ बजे सरकारी दफ्तरों में शुरू हो जाना चाहिए काम

सरकारी दफ्तरों में लेटलतीफी को लेकर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सख्ती बरतते हुए शुक्रवार को प्रदेश सचिवालय में सरकारी कर्मचारियों की समयबद्ध उपस्थिति सुनिश्चित करने का निर्देश दिया है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सभी महत्वपूर्ण विभागों को निर्देश दिए हैं कि हर हाल में सभी कार्यरत कर्मचारी सुबह 9:30 बजे दफ्तर पहुंच कर अपने कार्य शुरू कर दें।

सीएम ने कहा कि कहा कि समस्त विभागों के विभागाध्यक्ष ये सुनिश्चित करें कि उनके विभागीय कर्मचारियों की उपस्थिति समय पर हो। इसके अलावा दफ्तर में 7 दिन से अधिक समय तक कोई भी फाइल पेंडिंग ना रखी जाए।

अपर मुख्य सचिव अवनीश अवस्थी ने बताया कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि यह सुनिश्चित किया जाए कि सचिवालय में प्रमाणित व्यक्तियों का ही प्रवेश हो।

सचिवालय परिसर में कोई भी व्यक्ति पान, गुटखा आदि खाकर किसी भी तरह से गंदगी न करे। इसके अलावा अनाधिकृत या बाहरी लोगों को सचिवालय परिसर में प्रवेश ना दिया जाए।

योगी सरकार की तरफ से सरकारी कर्मचारियों को ऐसा निर्देश कोरोना के वक्त में काम में आई सुस्ती के चलते जारी किया गया है। आदेश में कहा गया है कि फाइल किसी भी स्तर पर एक जगह तीन दिन से ज्यादा नहीं रुकनी चाहिए।


    देश के अच्छे तथा सभ्य परिवारों में रिश्ता देखें - Register FREE