सीएम योगी ने छात्रों की सुविधा के लिए अधिक परीक्षा केंद्र बनाने का दिया निर्देश 

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रतियोगी व प्रवेश परीक्षाओं को लेकर हर जिले में अधिक से अधिक परीक्षा केंद्र बनाने निर्देश जारी किया है। उन्होने कोरोना महामारी को देखते हुए ये निर्देश जारी किया और कहा, इन केंद्रों पर स्वास्थ्य विभाग के प्रोटोकॉल का पालन कराया जाए।

मुख्यमंत्री रविवार को अपने आवास पर उच्च स्तरीय बैठक में अनलॉक व्यवस्था की समीक्षा की। उन्होंने कहा कि ई-संजीवनी सेवा का व्यापक प्रचार-प्रसार किया जाए, जिससे ज्यादा से ज्यादा जरूरतमंद मरीज घर पर रहकर डॉक्टरी परामर्श प्राप्त कर सकें। लगातार जागरूकता कार्यक्रम चलाए जाएं। जब तक वैक्सीन नहीं आती है तब तक सावधानी बरतकर ही कोरोना संक्रमण का प्रसार रोक सकते हैं।

इसके साथ ही बाढ़ मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बाढ़ राहत कार्यों को शीर्ष प्राथमिकता देने पर जोर दिया। उन्होने कहा कि इसके लिए बजट की कोई कमी नहीं है। बाढ़ राहत कार्यों में कोई कोताही न बरतने का निर्देश देने के साथ उन्होंने इस आपदा से क्षतिग्रस्त हुए मकानों का मुआवजा तत्काल पीड़ित परिवारों को देने के लिए कहा।

बाढ़ से क्षतिग्रस्त हुए मकानों में रहने वाले परिवारों को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रधानमंत्री आवास योजना या मुख्यमंत्री आवास योजना के तहत मकान उपलब्ध कराने के बारे में कार्य योजना तैयार करने का निर्देश दिया। संबंधित गांव में जमीन उपलब्ध होने पर पीड़ित परिवार को किसी अन्य स्थान पर बसाने के बारे में राजस्व विभाग को प्रस्ताव भेजने के लिए कहा। वहीं बाढ़ का पानी उतरने के बाद फसलों को हुए नुकसान का आकलन कर किसानों को भी राहत देने का निर्देश दिया।

वहीं सीएम योगी ने झीलों को नहरों से जोड़ने की कार्ययोजना बनाने के लिए भी कहा है ताकि बाढ़ की स्थिति में नहरों में आने वाले अतिरिक्त पानी को इन झीलों में पहुंचाया जा सके। वर्षा जल संचयन के मकसद से उन्होंने गांवों में तालाबों को भी मनरेगा के तहत गहरा कराने की कार्ययोजना पर तेजी से अमल का निर्देश दिया है ताकि बाढ़ के पानी को इनमें रोका जा सके।


    देश के अच्छे तथा सभ्य परिवारों में रिश्ता देखें - Register FREE