छात्रा के ऑपरेशन के लिए CM योगी ने करीब 10 लाख रुपये की मदद

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बीएड छात्रा के इलाज के लिए करीब 10 लाख रुपये की मदद की है। बीएड की छात्रा मधुलिका मिश्रा के ह्रदय के वॉल्व की सर्जरी होनी है।

प्रदेश के सूचना निदेशक शिशिर ने ‘भाषा’ को बताया कि गोरखपुर के मछली गांव कैंपियरगंज के रहने वाले राकेश चंद्र मिश्रा की पुत्री मधुलिका मिश्रा के हृदय के दोनों वाल्व खराब हो गए हैं और उसका आपरेशन होना है लेकिन पैसे की कमी के चलते यह संभव नहीं हो पा रहा था। इसे  लेकर परिवारवाले काफी दिनों से परेशान थे।

उन्होंने बताया कि सोशल मीडिया के माध्यम से मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को इसकी जानकारी हुई तो उन्होंने मधुलिका के पिता को पत्र लिखकर बताया कि उनकी पुत्री का मेदांता में इलाज कराने के लिए 9.90 लाख रुपये मुख्यमंत्री विवेकाधीन कोष से स्वीकृत कर दिए। इतना ही नहीं यह धनराशि मेदांता अस्पताल को भेज दी गयी।

उनके पिता को संबोधित पत्र में सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि मेदांता अस्पताल के अनुमान के मुताबिक ऑपरेशन के लिए मुख्यमंत्री विवेकाधीन कोष से 9.90 लाख रुपये मंजूर किए गए हैं। इससे इलाज का खर्च वहन करने में मदद मिलेगी।

मधुलिका बीएड द्वितीय वर्ष की छात्रा है। मधुलिका हृदय की गंभीर बीमारी से ग्रस्त हैं। मधुलिका ने पीएम और सीएम से इलाज में मदद की गुहार लगाई थी। छात्रा ने बताया कि उसके पिता राकेश चंद्र मिश्र किसान हैं। मां की बचपन में ही मौत हो गई थी। दो भाई हैं, जो पढ़ाई करने के साथ-साथ कृषि में पिता का भी सहयोग करते हैं।

मधुलिका ने बताया कि बीते दिनों सांस लेने में तकलीफ हुई तो भाई ने गोरखपुर के एक निजी अस्पताल में दिखाया, जहां डॉक्टरों ने बताया कि दिल के दोनों वॉल्व खराब हैं। इसके बाद भाई केजीएमयू और पीजीआई लेकर पहुंचा। कोरोना की वजह से दोनों जगहों पर इलाज से मना कर दिया गया। उसके बाद मेदांता में भर्ती कराया गया। यहां डॉक्टरों ने कहा कि ऑपरेशन के माध्यम से दोनों वॉल्व बदले जा सकते हैं। इसमें 9 लाख 90 हजार रुपये का खर्च आएगा।


    देश के अच्छे तथा सभ्य परिवारों में रिश्ता देखें - Register FREE