खाद की कालाबाजारी पर सीएम योगी ने दिये एनएसए के तहत कार्रवाई के निर्देश

उत्तर प्रदेश में हो रही खाद की कालाबाजारी पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सख्त रुख अपनाते हुए एनएसए के तहत कार्रवाई के निर्देश जारी किए है। उन्होने अधिकारियों से कहा कि खाद की कालाबाजारी पर तुरंत रोक लगनी चाहिए।इसके साथ ही ऐसे लोगो के विरुद्ध तुरंत एनएसए की कार्रवाई करने में विलंब न हो।

सीएम योगी ने कहा कि प्रदेश में खाद और अन्य फसल संबंधी जरूरी चीजों की कालाबाजारी पर रोक जरूरी है। इस साल मॉनसून की शुरुआत जल्द होने के कारण इन सबसे से प्रभावी ढंग से निपटने के लिए समय कम मिला है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ अपने सरकारी आवास पर टीम-11 के साथ कोविड, अनलॉक-3 और कानून-व्यवस्था की समीक्षा की।

उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिया कि यह सुनिश्चित किया जाए कि प्रत्येक किसान को उसकी जरूरत के अनुसार समय से खाद प्राप्त हो। खाद की कालाबाजारी कर किसानों के हितों से खिलवाड़ करने वाले लोगों के खिलाफ सरकार काफी सख्ती से पेश आएगी। ऐसा करने वालों के विरुद्ध तुरंत एनएसए के अंतर्गत भी कार्रवाई करने में बिलंब न हो।

बता दें कि राज्य में खाद की दुकानों के औचक निरीक्षण में अब तक 623 विक्रेताओं के लाइसेंस निलंबित किया जा चुका है। इसके साथ ही 35 के खिलाफ मामला भी दर्ज कराया गया है। राज्य सरकार के एक प्रवक्ता ने बताया कि राज्य में अब तक खाद की कुल 9,747 दुकानों का औचक निरीक्षण करते हुए 3287 नमूने लिए गए।

अधिकारी ने बताया, 22 विक्रेताओं का लाइसेंस भी निरस्त किया गया जबकि 35 दुकानों की बिक्री प्रतिबंधित करके संबंधित के खिलाफ सुसंगत धाराओं में मामला भी दर्ज कराया गया है। 17 दुकानों को सील भी किया गया है, जबकि 666 विक्रेताओं को चेतावनी दी गई है।


    देश के अच्छे तथा सभ्य परिवारों में रिश्ता देखें - Register FREE