CAA विरोध के बीच योगी सरकार का ऐलान – तीन तलाक पीड़िताओं को 6000 रुपए मिलेगी पेंशन

नागरिकता संशोधन कानून और एनआरसी को लेकर कर रहे प्रदर्शनकारियों पर पुलिस की दमनकारी कार्रवाई से घिरी योगी सरकार ने तीन तलाक से पीड़ित महिलाओं को पेंशन देने की घोषणा की है।

जानकारी के मुताबिक, उत्तर प्रदेश सरकार तीन तलाक पीड़िताओं को हर साल 6000 रुपए पेंशन देगी। यानी की हर महीने पांच सौ रुपए की सरकारी मदद दी जाएगी। जनवरी में प्रस्तावित कैबिनेट मीटिंग में सरकार इस संबंध में प्रस्ताव ला सकती है।

सीएम याेगी अादित्यनाथ ने 25 सितंबर को तीन तलाक पीड़िताअाें के लिए पेंशन याेजना शुरू किए जाने की घाेषणा की थी। इसमे तलाकशुदा हिंदू महिलाअाें काे इस पेंशन याेजना में शामिल किया जाएगा।

बता दें कि 2017 में एक फैसले में सुप्रीम कोर्ट ने तीन तलाक को असंवैधानिक करार दिया था। इसके बाद केंद्र की बीजेपी सरकार संसद में बिल लेकर आई थी। संसद से पास हो जाने के बाद यह कानून बन गया और तीन तलाक देना अवैध, असंवैधानिक और दंडनीय अपराध की श्रेणी में आ गया।

कानून बन जाने के बाद ही उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा था कि उनकी सरकार तीन तलाक पीड़ित बहनों को सरकारी मदद देगी, जिससे उनका जीवन यापन हो सके।