FB पर बैन के होने के बाद भी राजा सिंह का रोहिंग्या को लेकर विवादित बयान

सोशल मीडिया पर हेट स्पीच (घृणित भाषण) के चलते  फ़ेसबूक ने हाल ही में भाजपा नेता टी राजा सिंह को अपने प्लेटफॉर्म और इंस्टाग्राम से प्रतिबंधित कर दिया था। उन पर रोहिंग्या मुस्लिमों के खिलाफ भड़काऊ भाषण देने के मामले में ये प्रतिबंध लगाया गया था। हालांकि एक बार फिर उन्होने रोहिंग्या मुस्लिमों को लेकर विवादित बयान दिया है।

टी राजा सिंह ने हैदराबाद में रोहिंग्या मुसलमानों के यूट्यूब चैनल शुरू करने और फुटबॉल क्लब गठित करने का आरोप लगाते हुए कहा कि रोहिंग्य मुसलमान भविष्य में राजनीतिक पार्टी का गठन कर चुनाव भी लड़ सकते हैं। उन्होंने कहा कि रोहिंग्या मुसलमान को वापस भेजना जरूरी है।

विधायक सिंह ने मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव को सलाह देते हुए कहा कि तेलंगाना विशेषकर हैदराबाद में रोहिंग्या मुसलमानों की संख्या कितनी बढ़ रही है और आगे इनका और क्या क्या प्लान है। इस पर नजर रखें तो बेहतर होगा। विधायक ने केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह से आग्रह करते हुए कहा कि जब भी एनआरसी शुरू करें तो उसकी पहल तेलंगाना स्टेट हैदराबाद से ही करें।

उल्लेखनीय है कि अंतराष्ट्रीय अखबार वॉल स्ट्रीट जर्नल में एक खबर प्रकाशित हुई थी, जिसमें कहा गया था कि फेसबुक भाजपा की नीतियों का समर्थन कर रही है और उसकी पार्टी के नेता टी राजा सिंह के भड़काऊ बयानों को अपने प्लेटफॉर्म से नहीं हटा रही है। इस खबर के बाद राजा सिंह को फेसबुक ने अपने प्लेटफॉर्म और इंस्टाग्राम से प्रतिबंधित कर दिया था।

फेसबुक की प्रवक्ता ने अपने बयान में कहा, हमने राजा सिंह को हमारी नीति का उल्लंघन करने के लिए फेसबुक से प्रतिबंधित कर दिया है। हमारी नीति, फेसबुक के माध्यम से हिंसा को बढ़ावा देने, हिंसा करने या हमारे मंच पर मौजूदगी से नफरत फैलाने पर रोक लगाती है। बयान में कहा गया, संभावित उल्लंघनकर्ताओं के मूल्यांकन की प्रक्रिया व्यापक है और इस प्रक्रिया पर काम करते हुए हमने फेसबुक से राजा सिंह के अकाउंट को हटा दिया है।


    देश के अच्छे तथा सभ्य परिवारों में रिश्ता देखें - Register FREE