झालावाड़ में लगे वसुंधरा राजे और सांसद पुत्र दुष्यंत सिंह के लापता होने के पोस्टर

कोरोना महा’मारी के दौरान अपने क्षेत्रों से गायब रहने वाले सांसदों और विधायकों को जनता तलाश रही है। उनमे अब राजस्थान की पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे सिंधिया और उनके सांसद पुत्र दुष्यंत सिंह का भी नाम जुड़ गया है। दोनों के झालावाड़ में लापता होने के पोस्टर लगे है। बता दें कि वसुंधरा राजे  झालरापाटन से विधायक तो उनके पुत्र दुष्यंत सिंह झालावाड़-बारां लोकसभा क्षेत्र से सांसद है।

जानकारी के अनुसार, झालावाड़ शहर में बुधवार रात को अज्ञात लोगों ने पूर्व सीएम वसुंधरा राजे और उनके सांसद पुत्र दुष्यंत सिंह के लापता होने के पोस्टर शहर में चस्पा किए हुए दिखाई दिये। पोस्टरों पर लिखा था, ” इस गंभीर कोरोना काल में पूरे झालावाड़ जिले के निवासियों को अकेला छोड़कर आप दोनों कहाँ चले गए हैं ?”

 

पोस्टरों पर ये भी लिखा था, ‘‘डरिए नहीं, घर आ जाइए।” साथ ही उपहास भरे लहजे में कहा गया था, ‘‘लोगों का क्या है? वे इसे एक-दो दिन में भूल जाएंगे।” पोस्टरों में दोनों जनप्रतिनिधियों के बारे में जानकारी देने वालों को “आकर्षक इनाम’ देने का वादा किया गया था।

भाजपा की झालावाड़ जिला इकाई के अध्यक्ष संजय जैन ने इस प्रकरण को राजनीति का नया निचला स्तर बताया और जोर दिया कि दोनों नेता अपने क्षेत्रों के अधिकारियों और लोगों के साथ लगातार संपर्क में हैं और इस कठिन समय में लगातार उनके लिए काम कर रहे हैं।

हालांकि मामले की जानकारी मिलने के बाद बीजेपी कार्यकर्ताओं और नगर परिषद कर्मचारियों ने मौके पर पहुंचकर इन सभी पोस्टरों को फाड़कर हटा दिया। इससे पहले गुरदासपुर में बीजेपी सांसद सनी देओल के भी ऐसे पोस्टर लगे थे।