No menu items!
33.1 C
New Delhi
Monday, September 20, 2021

तालिबान को लेकर ओवैसी ने दी मोदी सरकार को चुनौती, बोले – दम है तो कर के दिखाए…

- Advertisement -

ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (AIMIM) के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष असदुद्दीन ओवैसी (Asaduddin Owaisi) ने तालिबान के मुद्दे पर मोदी सरकार को निशाने पर लिया है। उन्होने मोदी सरकार को चुनौती देते हुए कहा कि अगर नरेंद्र मोदी की सरकार में दम है तो तालिबान को आ’तंकी घोषित करें।

ओवैसी ने कहा कि अफगानिस्तान में तालिबान के आने से पाकिस्तान-चीन मजबूत होंगे। यह भारत के लिए फिक्र की बात है। नरेंद्र मोदी सरकार को तालिबान को आं’तकी घोषित करना चाहिए। UAPA की सूची में तालिबान को डाले। नरेंद्र मोदी की सरकार में दम है तो तालिबान को आतं’की घोषित करें।

इस दौरान उन्होने ‘अब्बा जान’ वाले बयान पर सीएम योगी आदित्यनाथ से सवाल किया कि ‘अब्बा’ के बहाने किन वोटों का ध्रुवीकरण किया जा रहा है बाबा? अगर काम किए होते तो ‘अब्बा-अब्बा’ चिल्लाने की नौबत नहीं आती। ओवैसी ने कहा कि प्रदेश के मुसलमानों की साक्षरता-दर सबसे कम है, मुस्लिम समुदाय के बच्चों का स्‍कूल ड्राप-आउट सर्वाधिक है। मुस्लिम बहल क्षेत्रों में स्कूल-कॉलेज नहीं खोले जाते हैं।

ओवैसी ने कहा कि पूरे उत्तर प्रदेश में आपने मात्र 10 घर दिए। माइनॉरिटी का फंड खर्च नहीं होता है। वो सोचते हैं ये सब बोल कर अपनी गिरती साख बचा लेंगे। मगर, UP की जनता सब जानती है। 2017 में कब्रिस्ता’न और श्म’शान वाली बात फिर उठा रहे हैं।

उन्होंने केंद्र सरकार पर आरोप लगाया है कि साल 2017-18 में प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना के तहत 6 लाख लोगों को घऱ दिए गए और इनमें से केवल 10 मुस्लिम लाभार्थी थे। उनका कहना है कि 1600 करोड़ में से केवल 16 करोड़ का लाभ मुस्लिमों को दिया गया है।

- Advertisement -

More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest article