ममता बनर्जी ने पूछा – मोदी हर दिन हिंदू-मुस्लिम करते हैं, उनके खिलाफ कितनी शिकायतें दर्ज हुईं?

तृणमूल कांग्रेस की सुप्रीमो ममता बनर्जी ने चुनाव आयोग द्वारा “सांप्र’दायिक आधार” पर वोट मांगने का आरोप लगाने के एक दिन बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर “हिंदू-मुस्लिम” करने को लेकर निशाने पर लिया।

बनर्जी ने गुरुवार को कहा कि उन्होंने कुछ भी गलत नहीं किया है क्योंकि वह केवल यही चाहती हैं कि वोट विभाजित न हों। दामजुर में एक रैली को संबोधित करते हुए, बनर्जी ने सवाल किया कि प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी को कितने नोटिस भेजे गए, जो हर दिन हिंदू-मुस्लिम ’करते हैं।

वेस्ट सीएम के हवाले से न्यूज एजेंसी एएनआई ने कह, थानंदीग्राम के मुसलमानों को पाकिस्तानी कहने वाले लोगों के खिलाफ कितनी शिकायतें दर्ज की गई हैं? क्या उन्हें शर्म नहीं आई? वे मेरे खिलाफ कुछ नहीं कर सकते मैं हिंदू, मुस्लिम, सिख, ईसाई के साथ-साथ आदिवासियों के साथ हूं।

टीएमसी प्रमुख ने आगे कहा कि उनके खिलाफ 100 शिकायतों के बाद भी, वह अपना रुख नहीं बदलेगी क्योंकि उन्होंने केवल लोगों से अपील की थी कि वोट विभाजित न हों। भाजपा नेता मुख्तार अब्बास नकवी द्वारा चुनाव आयोग से शिकायत करने के बाद आयोग की और से ममता बनर्जी को नोटिस भेजा गया।

आयोग ने कहा कि बनर्जी द्वारा 3 अप्रैल को दिए गए बयान की जांच की गई है और ऐसा पाया गया है कि जनप्रतिनिधित्व कानून, 1951 की धारा 123 (3), 3 (ए) और राजनीतिक दलों और उम्मीदवारों के मार्गदर्शन के लिए आदर्श आचरण संहिता के सामान्य आचरण के भाग I के खंड (2), (3) और (4) में शामिल प्रावधानों का उल्लंघन किया गया है।