Home राजनीति लालू यादव ने नोट बंदी की तुलना नस बंदी से की कहा,...

लालू यादव ने नोट बंदी की तुलना नस बंदी से की कहा, नोट बंदी हो गयी फेल

94
SHARE

lalu-prasad-yadav

पटना | राजद प्रमुख लालू प्रसाद यादव अपनी अलग भाषण शैली और चुटीले अंदाज के लिए जाने जाते है. बड़े ही मजाकिया अंदाज में जब वो अपने विरोधियो पर कटाक्ष करते है तो विरोधी भी एक बारगी मुस्कुरा जाते है. कहते है जब लालू यादव संसद में बोलते थे तो विरोधी भी उनको बड़े ध्यान से सुनते थे. हालांकि लालू यादव अब सांसद नही है तो संसद में उनको सुनने का मौका नही मिलता. लेकिन बाहर भी उनका वो ही चुटीला अंदाज जारी है.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

नोट बंदी पर मोदी सरकार की कई बार खिंचाई कर चुके लालू प्रसाद यादव अब इस मुद्दे पर बड़ा अन्दोलन करने के मूड में है. शनिवार को लालू प्रसाद यादव अपने विधायक, सांसद और नेताओ से मिले. इस पार्टी मीटिंग में नोट बंदी के ऊपर आन्दोलन करने की रुपरेखा तैयार की गयी. इस बैठक में नितीश कुमार के रुख पर चर्चा हुई. मीटिंग में तय हुआ की आन्दोलन में नितीश को साथ लाने की कोशिश की जायेगी.

बैठक के दौरान बात करते हुए लालू प्रसाद यादव ने कहा की हमने पहले ही कहा था की नोट बंदी से भ्रष्टाचार और कालाधन खत्म नही होने वाला. नोट बंदी फ़ैल हो चुकी है. इसका वो ही हाल होने वाला है जो कांग्रेस के शासनकाल में नस बंदी का हुआ था. हम अर्थशास्त्रियो को बुला रहे है और उनके साथ बैठकर नोट बंदी के फायदे नुक्सान के बारे में चर्चा करेंगे.

लालू यादव ने आगे कहा की मोदी जी ने नोट बंदी करने के बाद 50 दिन का समय माँगा था. 38 दिन बीत चुके है. अब तक हालात जस के तस है. 50 दिन में स्थिति सुधरने वाली नही है. बैठक में हमने तय किया है की 50 दिन पुरे होते ही हम नोट बंदी के खिलाफ बड़ा आन्दोलन करेंगे. इसके लिए नितीश से भी बात की जाएगी और वो भी इस आन्दोलन में शामिल होने. मालूम हो की नितीश कुमार ने नोट बंदी का समर्थन किया था लेकिन वो इसके अमल में लाने के तरीको के खिलाफ थे.

Loading...