Home राजनीति शशि थरूर के ‘हिंदू-पाकिस्तान’ वाले बयान को हामिद अंसारी का समर्थन

शशि थरूर के ‘हिंदू-पाकिस्तान’ वाले बयान को हामिद अंसारी का समर्थन

884
SHARE

पूर्व उपराष्ट्रपति हामिद अंसारी ने कांग्रेस नेता शशि थरूर के ‘हिंदू-पाकिस्तान’ वाले बयान को सही करार देते हुए कहा कि शशि थरूर पढ़े-लिखे आदमी हैं, उन्होंने जो भी कहा होगा सोच-समझ कर कहा होगा। हालांकि उन्होने ये भी कहा कि उन्होने अभी उनका बयान नहीं पढ़ा। लेकिन वह अपना फैसला सुनाने के लिए स्वतंत्र हैं।

देश में तेजी से बढ़ रहे मॉब लिंचिंग मामले पर उन्होंने कहा कि जनता का रिएक्शन सब कुछ कह देता। किसी को भी अधिकार नहीं है कि वह कानून को हाथ में ले। देश में एक कानून है जो काम करता है। उन्होंने कहा कि भारत में हमेशा स्वीकार्य विचार रहा है, अगर चीजें विचलित होती हैं तो ऐसा ही होता है।

जिन्ना विवाद पर उन्होने कहा, यूनिवर्सिटी एक ऐसी जगह है जहां पर खुले तौर पर बहस होने देनी चाहिए। इससे पहले भी एएमयू में गांधी, जिन्ना, नेहरू और टेरेसा की तस्वीरें थी, शायद लोगों ने देखी नहीं थीं।

अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय जैसे अल्पसंख्यक संस्थानों में दलितों के लिए आरक्षण मांगने के विशिष्ट प्रस्ताव पर, प्रतिष्ठित विश्वविद्यालय के पूर्व छात्र अंसारी ने कहा, ‘लोगों को कानून को ध्यान से देखना चाहिए। बहुत स्पष्ट रूप से उल्लेख किया गया है वह कौन सी एजेंसी है जो किसी भी विश्वविद्यालय के लिए धन का प्रबंधन कर सकती है।’

सोशल मीडिया ट्रोल पर अंसारी ने कहा कि ये अब हद से अधिक हो गया है, ये एक तरह से एंटी सोशल है। खुद का ट्विट्टर अकाउंट बनाए जाने पर उन्होने कहा, अभी कोई इरादा नहीं है। मेरे पास मेरा कंप्यूटर और किताबें हैं जिनके साथ मैं  खुद को खुश पाता हूं।

अल्पसंख्यकों के बीच ‘असुरक्षा के माहौल’ पर उन्होंने कहा, ‘हमें समझना होगा कि इतने सालों के बाद भी, सच्चर पैनल की सिफारिशों को पूरी तरह कार्यान्वित नहीं किया गया है. ‘अन्य’ बनाने का यह पर्यावरण हमारे लोकतंत्र को नुकसान पहुंचाता है।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

Loading...