No menu items!
21.1 C
New Delhi
Thursday, October 28, 2021

अगर इस्लाम तल’वार से फैला होता तो आज भारत में एक भी हिंदू नहीं बचता: कर्नाटक के पूर्व स्पीकर रमेश कुमार

भारत में तल’वार से इस्लाम के फैलने के बार-बार प्रचारित करने वाले आरएसएस के आरोपो को खारिज करते हुए, कर्नाटक के पूर्व स्पीकर केआर रमेश कुमार ने कहा कि अगर इस्लाम तल’वार से फैला होता, तो आज इस देश में एक भी हिंदू नहीं बचता। क्योंकि मुस्लिमों ने 800 से अधिक वर्षों तक शासन किया।

कुमार ने यह बात बेंगलुरु में पूर्व मुख्य चुनाव आयुक्त डॉ. एस.वाई. कुरैशी की किताब ‘द पॉपुलेशन मिथ’ के विमोचन समारोह में कही। उन्होंने सांप्रदा’यिक ताकतों पर हम’ला करते हुए कहा कि वे भारत के संविधान को कमजोर कर रहे हैं।

पिछले रविवार (26 सितंबर) को आयोजित कार्यक्रम में बोलते हुए, पूर्व स्पीकर और पांच बार के कांग्रेस विधायक, कुमार ने कहा, “यदि मुस्लिम शासकों ने अपने 800 वर्षों के शासन के दौरान इस देश में जबरन इस्लाम का प्रसार किया होता, तो एक भी हिंदू नहीं होता।”

उन्होंने कहा कि यह पूरी तरह से झूठा प्रचार है जिसका कोई ऐतिहासिक आधार नहीं है। उन्होंने कहा कि मुस्लिम शासन के इतिहास और देश के विकास में उनके योगदान को विकृत करने का प्रयास किया जा रहा है।

कांग्रेस नेता ने कहा, “मुसलमानों ने आज इस देश के लिए जो योगदान दिया है, वह लोगों के दिमाग से मिटा दिया जा रहा है और ऐतिहासिक तथ्यों को तोड़-मरोड़ कर लोगों के सामने इस तरह पेश किया जा रहा है कि मुसलमानों ने जबरन इस्लाम का प्रसार किया है।”

कुमार के विचारों से सहमति जताते हुए कर्नाटक के पूर्व मंत्री डॉ. एच.सी. महादेवप्पा ने भी इसी तर्ज पर बात की। उन्होंने कहा कि मुस्लिम शासकों के खिलाफ जबरन इस्लाम फैलाने का आरोप लगाने का कोई आधार और ऐतिहासिक तथ्य नहीं है।

डॉ महादेवप्पा ने अपने संबोधन में कहा, मुसलमानों ने इस देश पर 800 वर्षों तक शासन किया और मुस्लिम शासन के बाद 200 वर्षों तक अंग्रेजों ने देश पर शासन किया, लेकिन उस अवधि के दौरान भारत को इस्लामिक राज्य या ईसाई राज्य घोषित करने का कोई प्रयास नहीं किया गया था।”

महादेवप्पा ने कहा कि देश में सांप्र’दायिक ताकतों के सत्ता में आने के बाद कहा जा रहा है कि देश हिंदू राष्ट्र में बदल जाएगा। हालाँकि, उन्होंने कहा कि आम भारतीय, चाहे वे हिंदू हों या मुसलमान, दोनों एक साथ और शांति से रहना चाहते हैं, लेकिन मुट्ठी भर लोग, अपने हित की सेवा के लिए, नफरत के बीज बो रहे हैं। उन्होंने कहा कि हमें इन ताकतों का प्रभावी ढंग से जवाब देना चाहिए और उनके मंसूबों को विफल करना चाहिए।

Get in Touch

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Get in Touch

0FansLike
2,993FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

Latest Posts