उमा भारती की भाजपा को नसीहत – राम का नाम या अयोध्या किसी की बपौती नहीं

बुधवार 5 अगस्त को अयोध्या में होने जा रहे राम मंदिर निर्माण के भूमि पूजन कार्यक्रम को लेकर सभी तैयारियां पूरी हो चुकी है। इसी बीच मध्य प्रदेश में बीजेपी की फायर ब्रांड नेता उमा भारती ने बीजेपी पर तंज़ कसते हुए कहा कि ‘राम के नाम पर बीजेपी का पेटेंट नहीं हुआ है।’

उमा भारती ने कहा है कि भगवान राम किसी की बपौती नहीं हैं। उन्होंने बीजेपी कार्यकर्ताओं को समझाते हुए तीखे शब्दों में कहा है कि ‘राम के नाम पर बीजेपी का पेटेंट नहीं हुआ है। ये सबकी हैं, जो बीजेपी में हैं या नहीं हैं। जो किसी भी धर्म को मानते हो। जो राम को मानते हैं, राम उन्हीं के हैं।

बता दें कि उमा भारती (Uma Bharti) ने तय किया है कि वह भूमि पूजन (Ram Mandir Bhumipujan) कार्यक्रम में भी शामिल नहीं होंगी। वे सरयू तट पर ही रहेंगी और कार्यक्रम समाप्त होने के बाद राम लला के दर्शन करेंगी। उनका कहना है कि कोरोनावायरस संक्रमण फैलने की वजह से मैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और बाकी लोगों के चले जाने के बाद ही रामलला के दर्शन करने जाऊंगी।

उमा भारती ने कहा कि कल जब से मैंने अमित शाह जी और बीजेपी के अन्य नेताओं के कोरोना पॉज़िटिव होने के बारे में सुना है, तभी से मै अयोध्या में मंदिर के शिलान्यास में उपस्थित लोगों के लिए ख़ासकर पीएम मोदी (PM Modi) के लिए चिंतिंत हूं। उन्होंने बताया कि इसीलिये मैंने रामजन्मभूमि न्यास के अधिकारीओ को सूचना दी है की शिलान्यास के कार्यक्रम के मुहूर्त पर मैं अयोध्या में सरयू नदी के किनारे पर रहूंगी।

उन्होंने बताया कि मैं भोपाल से आज (सोमवार को) रवाना होउंगी साथ ही चिंता भी जताई कि अयोध्या में किसी संक्रमित से उनकी मुलाकात हो सकती है। उन्होंने कहा कि ऐसी स्थिति में जहां पीएम मोदी और अन्य सैकड़ों लोग उपस्थित रहेंगे, मैं उस स्थान से दूरी बनाकर रखूंगी और सभी के वहां से जाने के बाद राम लला के दर्शन करुंगी।


    देश के अच्छे तथा सभ्य परिवारों में रिश्ता देखें - Register FREE