अखिलेश यादव की बेटी CAA के खिलाफ विरोध-प्रदर्शन में दोस्तों के साथ आई नजर

लखनऊ: नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) और एनआरसी के विरोध में लखनऊ के घंटाघर इलाके में जारी प्रदर्शन में समाजवादी पार्टी (एसपी) प्रमुख अखिलेश यादव की बेटी टीना यादव भी अपने दोस्तों के साथ शामिल हुई। इस दौरान धरने पर बैठी बच्चियां टीना के साथ सेल्फी लेती नजर आईं।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, टीना यादव 18 जनवरी को लखनऊ के घंटाघर पर धरनास्‍थल पर गई थीं। लेकिन इसकी फोटो अब वायरल हुई है। प्रदर्शन में शामिल महिलाओं का कहना है कि सरकार जब तक सीएए और एनआरसी को वापस नहीं लेती है, तब तक वह अपना धरना समाप्त नहीं करेंगी।

इसी बीच लखनऊ में नागरिकता कानून (CAA) के सर्मथन में अमित शाह की रैली को लेकर सपा सुप्रीमो और पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने ट्वीट ने कर कहा कि प्रदेश में एक बाबा कम थे क्या जो दूसरे बाबा अपना प्रवचन देने आ गए।

उन्होने अपने ट्वीट में लिखा-  “प्रदेश में एक बाबा कम थे क्या जो दूसरे बाबा अपना प्रवचन देने आ गये। इन ढोंगी बाबाओं ने जिस तरह जनता के विश्वास के साथ छल किया है उसकी वजह से CAA पर समर्थन के लिए इनकी झोली में जनता कुछ भी नहीं डालेगी। जनता झूठे बाबा से यही कहेगी…  बाबा इस बार जाना… तो लौट कर कभी न आना।”

इंसानियत सबसे बड़ा मजहब

घंटाघर पर महिलाओं के प्रदर्शन में रात भर ड्यूटी करने वाले पुलिस कर्मियों को महिलाओं ने देर रात चाय व पूड़ी बांटी। सादिया ने बताया कि पुलिसकर्मी रात भर जाग कर उनकी सुरक्षा में तैनात है। भले ही वह प्रदर्शन समाप्त करने का प्रयास कर रहे लेकिन फिर भी वह इंसान है और इंसानियत सबसे बड़ा धर्म है। इसलिए हम लोग प्रदर्शन करने वाली महिलाओं के साथ-साथ पुलिस कर्मियों को भी खाने पीने सामान बांट रहे हैं।


    देश के अच्छे तथा सभ्य परिवारों में रिश्ता देखें - Register FREE

[vivafbcomment]