छोटे ओवैसी बोले – मुस्लिमों घबराने की जरूरत नहीं, हमारे बुजुर्गों ने 800 साल देश पर राज किया

हैदराबाद। नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) को लेकर देश भर में हो रहे विरोध प्रदर्शन के बीच ऑल इंडिया मजलिस-ए इत्‍तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) के नेता अकबरुद्दीन ओवैसी ने कहा है कि मुसलमानों को किसी भी तरह के कागजात दिखाने की जरूरत नहीं है।

ओवैसी ने सीएए को लेकर कहा कि किसी को भी डरने और घबराने की जरूरत नहीं है, हमको इनकी बातों में आने की जरूरत नहीं है। जो लोग पूछ रहे हैं कि मुसलमान के पास क्या है, मैं उनसे कहना चाहता हूं कि तू मेरे कागज देखना चाहता है। मैंने 800 बरस तक इस मुल्क में हुक्मरानी और जांबाजी की है। ये मुल्क मेरा था, मेरा है और मेरा रहेगा।

उन्होने आगे कहा, मेरे अब्बा और दादा ने इस मुल्क को चारमीनार दिया, कुतुब मीनार दिया, जामा मस्जिद दिया। हिंदुस्तान का पीएम जिस लाल किले पर झंडा फहराता है उसे भी हमारे पूर्वजों ने ही दिया है। उन्होने सवाल उठाया कि फिर आज हमसे दस्‍तावेज क्यों मांगे जा रहे हैं? उन्होंने साफ कहा कि वे किसी तरह के पेपर प्रशासन को न दिखाएं, ‘ये मुल्‍क मेरा था, मेरा है और रहेगा’, कोई भी हमें यहां से निकाल नहीं सकता है।

असदुद्दीन ओवैसी ने CAA पर स्वीकारी अमित शाह की चुनौती

करीमनगर में एक जनसभा को संबोधित करते हुए असदुद्दीन ओवैसी ने कहा कि वे नागरिकता कानून, एनपीआर और एनआरसी पर बहस करने के लिए तैयार हैं। उन्होने कहा कि आपको मेरे साथ बहस करनी चाहिए। उनके साथ बहस क्यों? बहस एक दाढ़ी वाले शख्स के साथ होनी चाहिए। मैं सीएए, एनपीआर और एनआरसी पर बहस कर सकता हूं।


    देश के अच्छे तथा सभ्य परिवारों में रिश्ता देखें - Register FREE

[vivafbcomment]