Home राष्ट्रिय मेवात: मुस्लिमों को मस्जिद में नहीं पढ़ने दी गई जुम्मे की नमाज

मेवात: मुस्लिमों को मस्जिद में नहीं पढ़ने दी गई जुम्मे की नमाज

304
SHARE

हरियाणा में मुस्लिमों की धार्मिक आज़ादी छिनती नजर आ रही है. गुरुग्राम में हिंदूवादी खुले में मुस्लिमों को नमाज अदा नहीं करने दे रहे तो अब एक कदम और आगे बढ़कर मस्जिदों में भी नमाज पढ़ने से रोका जा रहा है.

मामला मेवात के इलाके से सटे पाटोदी तहसील के गाँव भोंडा कलां का है. गनाव के बहूसंख्यक वर्ग के कुछ असामाजिक तत्वों ने भोंडा कलां के नमाजियों को जुम्मे की मस्जिद में नमाज अदा नहीं करने दी.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

असामाजिक तत्वों ने नमाजियों को जबरन मस्जिद से हाथ पकड़ कर बाहर निकाला दिया. जिससे पाटोदी तहसील के साथ साथ पूरे इलाका में अल्पसंख्यक वर्ग में डर का माहौल है.

सिआसत की रिपोर्ट के अनुसार, गाँव भोंडा कलां के नौजवान शकील अहमद ने फोन के जरिये बताया कि आज जैसे ही एक मुस्लिम मजदूर नमाज़ पढने के लिए गाँव की मस्जिद में आए तो उसका हाथ पकड़ कर मस्जिद से निकाल दिया गया.

असामाजिक तत्वों ने उसे हाथ पकड़ कर यह कहते हुए मजदूरों को मस्जिद से बाहर कर दिया कि इसमें सिर्फ भोंडा कलां के लोग ही नमाज़ अदा कर सकते हैं. इस घटना की वजह से लगभग तीन घंटे की देरी से जुमा की नमाज़ हुई.

Loading...