Home राष्ट्रिय त्रिपुरा: भगवा संगठनों की रैली, मुस्लिमों से बोले – भारतीय होने का...

त्रिपुरा: भगवा संगठनों की रैली, मुस्लिमों से बोले – भारतीय होने का सबूत दो

107
SHARE

पूर्वोत्तर राज्य त्रिपुरा में भाजपा के सत्ता में आने के साथ ही भगवा संगठनों का अल्पसंख्यकों के खिलाफ तांडव करना शुरू हो गया है.

राज्य में बजरंग दल और विश्व हिंदू परिषद (वीएचपी) के सैकड़ों कार्यकर्ताओं ने सड़क पर उतर कर गौहत्या के खिलाफ रैली निकाली. इस दौरान मुस्लिमों को अपनी राष्ट्रीयता प्रमाणित करने के लिए आधार कार्ड भी दिखाने को कहा.

पश्चिमी त्रिपुरा में स्थित जॉयनगर गांव के जैसे ही रैली पहुंची तो इस दौरान विवादित नारे लगाए गए. ‘देश नहीं बांटने देंगे, गाय नहीं काटने देंगे’ का नारा लगा रहे थे. साथ ही स्थानीय लोगों को गौहत्या न करने की चेतावनी देते हुए परिणाम भुगतने की बात भी कही.

इसके अलावा इस इलाके में रहने वाले मुस्लिमों को अपनी राष्ट्रीयता प्रमाणित करने के लिए आधार कार्ड भी दिखाने को कहा. त्रिपुरा की विपक्षी पार्टियां माकपा और कांग्रेस ने बजरंग दल और वीएचपी के इस कदम की कड़ी आलोचना की है.

माकपा नेता पबित्र कार ने कहा, ‘वीचपी द्वारा निकाली गई रैली के बाद अल्‍पसंख्‍यक समुदाय के लोगों ने सुरक्षा को लेकर चिंता जताई है. वे इससे हतप्रभ हैं. हमारे राज्‍य में अमन-चैन बनाए रखने की जिम्‍मेदारी सरकार की है.

वहीँ कांग्रेस के राज्‍य प्रमुख प्रद्योत किशोर माणिक्‍य ने कहा, पशुओं को काटने पर प्रतिबंध लगाने का फैसला लेने का काम राज्‍य सरकार का है. पशुओं को अवैध तरीके से काटने के मामले में वीचपी और बजरंग दल के कार्यकर्ताओं को कानून अपने हाथ में लेने से पहले पुलिस में शिकायत दर्ज करानी चाहिए. अल्‍पसंख्‍यक समुदाय को यूं डराया धमकाया नहीं जाना चाहिए. मैं व्‍यक्तिगत तौर पर अवैध बूचड़खानों का विरोधी हूं.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

Loading...