Home राष्ट्रिय योगी के बंगले के साथ खिंची सेल्फ़ी तो हो सकती है जेल,...

योगी के बंगले के साथ खिंची सेल्फ़ी तो हो सकती है जेल, अखिलेश ने कसा तंज

2477
SHARE

लखनऊ । दुनिया भर के लोगों में सेल्फ़ी को लेकर काफ़ी क्रेज़ है। यही कारण है की अब मोबाइल बनाने वाली कम्पनी भी इस और ध्यान दे रही है। इसलिए अब ज़्यादातर मोबाइल फ़ोन, शानदार फ़्रंट कैमरा के साथ लॉंच किए जा रहे है। बाज़ार, लोगों के इस क्रेज़ का पूरा फ़ायदा उठा रहा है। हालाँकि वैसे तो सेल्फ़ी लेने को लेकर कही कोई क़ानून नही है लेकिन लखनऊ में एक ऐसी जगह है जहाँ आप सेल्फ़ी लेने के चक्कर में जेल जा सकते है।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

दरअसल लखनऊ पुलिस ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के बंगले के साथ सेल्फ़ी लेने पर रोक लगा दी है। बुधवार को पुलिस ने योगी के बंगले की और जाने वाली सड़क, कालिदास मार्ग , के मोड़ पे लगे गेट पर एक चेतावनी दे  बोर्ड लगा दिया। इस बोर्ड पर लिखा हुआ था की यह वीआइपी एरिया है और यहाँ पर फ़ोटो खिंचना या सेल्फ़ी लेना दंडनीय अपराध है। ऐसा करते हुए पकड़े जाने पर सख़्त कार्यवाही की जाएगी।

इसी बीच चेतावनी बोर्ड की यह तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल हो गयी। लोगों ने पुलिस के इस फ़ैसले पर प्रतिकूल प्रतिक्रिया देनी शुरू की तो इस बोर्ड को वहाँ से हटा लिया गया। लेकिन समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव को एक मुद्दा मिल गया। उन्होंने तुरंत इसे लपकते हुए योगी सरकार पर तंज कसा। उन्होंने ट्वीट कर लिखा,’ ए साल में जनता को उत्तर प्रदेश सरकार का तोहफा, सेल्फी लेने पर लग सकता है यूपीकोका!’

मालूम हो कि हाल ही योगी सरकार ने मकोका की तर्ज़ पर यूपीकोका लाने का फ़ैसले किया है। हालाँकि विपक्षी दल इस क़ानून के ख़िलाफ़ आवाज़ मुखर कर रहे है। ख़ुद अखिलेश ने ट्वीट कर इसे धोखा क़रार दिया। उन्होंने कहा,’ फर्नीचर साफ करने के पाउडर को PETN विस्फोटक बताने वाले जनता को बहकाने में माहिर हैं. 9 महीनों में बीजेपी ने जन सुरक्षा से खिलवाड़ करते हुए न सिर्फ समाजवादी ‘यूपी100’ और महिला सुरक्षा की ‘1090’  हेल्पलाइन’ को बल्कि समाजवादी विकास पथ पर बढ़ते प्रदेश को रोका है।’

Loading...