कोरोना के खिलाफ लड़ाई में आगे आई रिलायंस, शुरू किया पीड़ितों के लिए अलग हॉस्पिटल

मुकेश अंबानी के स्वामित्व वाली रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड (आरआईएल) ने कोविड-19 से निपटने के लिए सोमवार को मुंबई में देश का पहला COVID-19 मरीजों के लिए अलग से हॉस्पिटल सेटअप किया है।

RIL ने जानकारी देते हुए कहा, ‘रिलायंस फाउंडेशन हॉस्पिटल ने मुंबई म्युनिसिपल कॉरपोरेशन के साथ मिलकर COVID-19 के मरीजों के लिए विशेष तौर पर 100 बेट का हॉस्पिटल सेटअप किया है।’ रिलायंस ने कहा, ‘COVID-19 को लेकर भारत का यह पहला डेडिकेटेड हॉस्प्टिल है जिसकी पूरी फंडिंग रिलायंस फाउंडेशन करेगा। इन सभी बेड पर जरूरी इन्फ्रास्ट्रक्चर, वें​टीलेटर्स, पेसमेकर, डायलिसिस मशीन और मॉनिटरिंग मशीन जैसे सभी बायोमेडिकल्प इक्विपमेंट लगाया गया है।’

इसके अलावा रिलायंस फाउंडेशन मौजूदा संकट की स्थिति में आवश्यक आजीविका राहत की पेशकश करने के लिए गैर सरकारी संगठनों के साथ सहभागिता में विभिन्न शहरों में लोगों को मुफ्त भोजन प्रदान करेगा। रिलायंस लाइफ साइंसेज प्रभावी टेस्टिंग के लिए अतिरिक्त टेस्ट किट्स और उपभोग्य सामग्रियों का आयात कर रही है।

रिलायंस इंडस्ट्रीज ने यह भी कहा कि अगर इस संकट के कारण उसका काम रूकता है तो भी वह स्थायी और ठेका पर काम करने वाले कर्मचारियों को पूरा वेतन देगी। बयान के अनुसार कंपनी कोरोना वायरस से पीड़ित मरीजों को ले जाने वाले आपातकालीन वाहनों को मुफ्त में ईंधन उपलब्ध कराएगी।

आरआईएल अपनी उत्पादन क्षमता को बढ़ाकर प्रति दिन 100,000 फेस-मास्क और बड़ी संख्या में व्यक्तिगत सुरक्षा उपकरण (पीपीई), जैसे सिक्योरिटी सूट्स और गारमेंट्स का निर्माण कर रही है ताकि राष्ट्र के हेल्थ वर्कर्स को कोरोना वायरस की चुनौती से लड़ने के लिए अच्छी तरह से सुसज्जित किया जा सके।


    देश के अच्छे तथा सभ्य परिवारों में रिश्ता देखें - Register FREE