रक्षा मंत्रालय ने माना – चीन ने किया लद्दाख में अतिक्रमण, राहुल बोले – फिर PM झूठ क्यों बोल रहे?

नई दिल्ली: रक्षा मंत्रालय ने एक दस्तावेज़ जारी कर कहा कि लद्दाख के कई इलाकों में चीनी सेना के अतिक्रमण की घटनाएं बढ़ी हैं। ये दस्तावेज़ रक्षा मंत्रालय ने अपनी वेबसाइट पर अपलोड किया है।

दस्तावेज़ में कहा गया कि चीनी सैनिकों ने मई में पूर्वी लद्दाख में भारतीय क्षेत्र में घुसपैठ की थी। चीनी पक्ष ने कुगरांग नाला (हॉट स्प्रिंग्स के उत्तर में पैट्रोलिंग प्वाइंट-15 के पास), गोगरा (पीपी-17 ए) और पैंगोंग त्सो के उत्तरी तट पर 17-18 मई को घुसपैठ की थी।

इसमें कहा गया है कि 5 मई के बाद से चीन का यह आक्रामक रूप LAC पर नजर आ रहा है। 5 और 6 मई को ही पैंगोंग त्सो भारत और चीन की सेना के बीच में झड़प हुई थी। इस दस्तावेज़ के सामने आने के बाद कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने ने गुरुवार को एक ट्वीट में सवाल उठाया कि ‘पीएम झूठ क्यों बोल रहे हैं?’

इससे पहले रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने मई के अंत में एक टेलीविजन चैनल को दिए साक्षात्कार में कहा था कि चीनी सैनिकों की एक बड़ी संख्या पहले की तुलना में थोड़ा आगे आ गई थी। लेकिन आधिकारिक रूप से इस बात को स्पष्ट किया गया था कि इसकी गलत तरीके से इस तरह से व्याख्या नहीं की जानी चाहिए कि चीनी सैनिकों ने एलएसी के भारतीय क्षेत्र में प्रवेश किया है।

बता दें कि दोनों देशों के बीच सीमा विवाद के बीच दोनों देश मामले को सुलझाने के लिए सैन्य वार्ताएं कर रहे हैं। इसके तहत भारत और चीन के बीच लेफ्टिनेंट जनरल रैंक के अधिकारियों के बीच बीते रविवार को 5वें दौर की बातचीत हुई थी, जो बेनतीजा रही है। ऊपर से चीन ने उल्टा भारत को भारतीय जमीन से पीछे हटने को कहा है।


    देश के अच्छे तथा सभ्य परिवारों में रिश्ता देखें - Register FREE