हुजूर अमीने शरीअत के नाम पर रखा जाए छत्तीसगढ़ हज हाउस का नाम

छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में बनने वाले हज हाउस का नाम हुजूर अमीने शरीअत के नाम पर रखने की मांग की गई है। यह मांग जिले के विभिन्न संगठन अंजुमन इस्लामिया कमेटी कांकेर, छत्तीसगढ़ मुस्लिम संगठन, मस्जिदे अमीने शरीयत सिंगारभाट, मेमन जमात कांकेर, छग अल्प संख्यक कांग्रेस कमेटी, मस्जिदे सिब्तैन रजा संजय नगर कांकेर ने की है।

इसके लिए मुख्यमंत्री के नाम डिप्टी कलेक्टर व प्रभारी तहसीलदार गुरुर सुब्रत प्रधान को पत्र सौपकर छत्तीसगढ़ हज हाउस की आधार शीला रखने पर आभार व्यक्त किया। पत्र में मांग की है की हज हाउस का नाम छत्तीसगढ़ के धर्म गुरु हुजूर अमीने शरीअत के नाम पर रखा जाए। उनके पूर्वज हुजूर आला हजरत के नाम पर शिक्षण संस्था व ट्रेन देश में संचालित है।

धर्मगुरु हजरत हुजूर अमीने शरीअत ने छत्तीसगढ़ में 52 वर्ष तक रहकर यहां हिन्दू-मुस्लिम एकता का परिचय देकर मिसाल कायम किया है। उनसे न सिर्फ मुसलमान बल्कि हिंदू व अन्य सभी समाज के लोग सपंर्क कर अपनी परेशानियों का निदान पाते थे।

उनके न सिर्फ छत्तीसगढ़ में बल्कि आंध्रप्रदेश, महाराष्ट, ओडिशा, मध्यप्रदेश में लाखों की संख्या में मुरीद है। छग का हज हाउस उनके नाम करने से सभी मुुरीदों को काफी खुशी होगी। छत्तीसगढ़ में धर्मगुरु हुजूर अमीने शरीअत अल्लामा सिब्तैन रजा खां नाम से कई मस्जिद व मदरसों का संचालन भी किया जा रहा है।

उन्होंने राज्य में इस्लाम के साथ मानवता की जो खिदमत की है, इसे देखते हुए कमेटी के सदस्यों व मुस्लिम अवाम ने धर्मगुरु हुजूर अमीने शरीअत अल्लामा सिब्तैन रजा खां द्वारा राज्य में किए गए परोपकार के कार्यो को ध्यान में रखते हुए हुए प्रस्तावित हज हाउस का नाम रखने की मांग की है।


    देश के अच्छे तथा सभ्य परिवारों में रिश्ता देखें - Register FREE