अनुराग कश्यप बोले – रात के बजाय सुबह आठ बजे बोल देते, तो कुछ कर लेते इंतजाम

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बीती रात आठ बजे पूरे भारत में लॉकडाउन का ऐलान किया है। पीएम मोदी ने देश में 21 दिनों के लॉकडाउन का ऐलान किया है। इसके साथ ही पीएम मोदी ने कहा कि 21 दिन नहीं संभले तो देश 21 साल पीछे चला जाएगा।

पीएम मोदी ने कहा, ‘आने वाले 21 दिन हमारे लिए बहुत महत्वपूर्ण हैं। हेल्थ एक्सपर्ट्स की मानें तो, कोरोना वायरस की संक्रमण सायकिल तोड़ने के लिए कम से कम 21 दिन का समय बहुत अहम है। हिंदुस्तान को बचाने के लिए, हिंदुस्तान के हर नागरिक को बचाने के लिए आज रात 12 बजे से, घरों से बाहर निकलने पर, पूरी तरह पाबंदी लगाई जा रही है।’

पीएम मोदी के इस ऐलान पर बॉलीवुड डायरेक्टर अनुराग कश्यप सवाल उठाते हुए कहा कि इस लॉक डाउन कि घोषणा करना रात को आठ बजे ही जरूरी था। ये दिन में भी हो सकता था। ताकि जरूरतमंद कुछ इंतजाम ही कर लेते।

उन्होने अपने ट्वीट में लिखा, ‘8 बजे रात के बजाए सुबह आठ बजे बोल देते। चार बजे भी बोल देते तो इंतज़ाम कर लेते। हमेशा आठ बजे ही बोलते हैं और समय देते हैं चार घंटे का। उनका क्या जो पैदल घर को निकले हैं शहर छोड़ के , क्योंकि बस या ट्रेन नहीं चल रही ? अब कहें तो कहें क्या।ठीक है प्रभु।’

पीएम मोदी के इस ऐलान पर कांग्रेस की प्रतिक्रिया आई है। पार्टी के प्रवक्ता रणदीप सुजरेवाला ने कहा कि देश में 21 दिनों के लॉकडाउन के फैसले को मानेगा, लेकिन प्रधानमंत्री मोदी को बताना चाहिए कि उन्होंने कोरोना वायरस की महामारी को रोकने और स्वास्थ्यकर्मियों की सुरक्षा के लिए क्या किया?

कांग्रेस पार्टी के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने ट्वीट कर कहा, ‘आदरणीय मोदी जी,देश तो लॉकडाउन का हर आग्रह मानेगा। पर आपने करोना की महामारी को रोकने के लिए क्या किया?’ उन्होंने यह सवाल भी किया, ‘स्वास्थ्यकर्मियों की सुरक्षा कैसे होगी? करोना से पैदा हुए रोज़ी-रोटी के महासंकट का क्या हल किया? ग़रीब, मज़दूर, किसान, दुकानदार, दिहाड़ीदार के 21 दिन कैसे कटेंगे?’


    देश के अच्छे तथा सभ्य परिवारों में रिश्ता देखें - Register FREE

[vivafbcomment]