शर्मनाक: बोकारो में पुलिस ने 91 बच्चों को जबरदस्ती ट्रेन से उतारा, ली तलाशी

झारखंड के बोकारो में राजकीय रेल पुलिस (जीआरपी) व पुलिस की और से कथित तौर पर धार्मिक भेदभाव का मामला सामने आया है। पुलिस ने धनबाद-अलपुझा (3351) अलेप्पी एक्सप्रेस के तीन कोच से मदरसो के करीब 84 बच्चों को उतारकर सघन तलाशी ली।

जानकारी के अनुसार, ये सभी बच्चे तेलंगाना के खम्मम स्थित मदरसे में पढ़ने के लिए जा रहे थे। सभी की उम्र सात से 14 वर्ष के बीच है। दो को छोड़ सभी के पास धनबाद से विजयवाड़ा का टिकट भी था। पुलिस की कार्रवाई के बाद लगभग 40 बच्चों के परिजन गुरुवार देर शाम बोकारो पहुंच भी गए।

https://www.facebook.com/rashidalam1995/videos/1737415139677167/?t=0

लेकिन पुलिस अपनी इस शर्मनाक करतूत को छुपाने के लिए मानव तस्करी के खिलाफ कार्रवाई का नाम दे रही है। लेकिन घटना का जो विडियो वायरल हो रहा है। उसमे साफ तौर पर दिख रहा है कि मदरसों के बच्चों के होने की वजह से उनकी तलाशी ली गई। बच्चों के साथ पुलिस का अपमानजनक सलूक भी दिखा।

https://www.facebook.com/rashidalam1995/videos/1737646459654035/?t=1

हालांकि डॉ. विनय कुमार ¨सह, अध्यक्ष, बाल कल्याण समिति, बोकारो का कहना है कि प्रथम दृष्टया मामला मानव तस्करी का लग रहा है। क्योंकि, इतनी बड़ी संख्या में बच्चों को घर से दूर केवल मदरसे में पढ़ाई के लिए ले जाया जा रहा है यह समझ से परे है। सबसे बड़ी बात कि किसी भी बच्चे के परिजन उसके साथ नहीं है। जांच के बाद ही स्थिति स्पष्ट होगी।


    देश के अच्छे तथा सभ्य परिवारों में रिश्ता देखें - Register FREE