Home अन्तर्राष्ट्रीय रूस ,ईरान और तुर्की का मुख्य उद्देश्य है सीरिया का पुनर्निर्माण करना...

रूस ,ईरान और तुर्की का मुख्य उद्देश्य है सीरिया का पुनर्निर्माण करना है : एर्दोगान

260
SHARE

तुर्की के राष्ट्रपति एर्दोगान के निमंत्रण पर रुसी राष्ट्रपति पुतिन और ईरानी राष्ट्रपति रूहानी अंकारा पहुंचे थे, जहां तीनो देशों ने कई मुद्दों पर चर्चा की और सीरिया के मुद्दे पर भी खास बैठक की.

तुर्की, ईरान और रूस – अंकारा में त्रिपक्षीय बैठक के बाद एक संयुक्त बयान में – कहा गया की “वे सीरिया में शांति सुनिश्चित करने के प्रयासों को तेज करने और नागरिकों को युद्ध से बचाने में सहमत हुए हैं.”

सीरिया का पुनर्निर्माण

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

तुर्की के राष्ट्रपति रेसेप तय्यिप एर्दोगान ने बुधवार को कहा कि “सीरिया की क्षेत्रीय अखंडता सभी आतंकवादी समूहों को खाड़ी में रखने पर निर्भर करती है.” उन्होंने कहा की ” तुर्की सीरिया में डी-एस्केलेशन जोनों पर आवश्यक देखभाल के साथ अपनी जिम्मेदारियों को पूरा कर रहा था.”

शिखर सम्मेलन में एर्दोगान ने कहा की “सीरिया के संकट को हल करने के लिए तीनो नेताओं ने चर्चा की है.” एर्दोगान ने कहा की “त्रिपक्षीय शिखर सम्मेलन का मुख्य उद्देश्य सीरिया को पुनर्निर्माण करना है जहां शांति कायम रहे.”

पहले त्रिपक्षीय शिखर सम्मेलन का आयोजन रूस के काला सागर रिज़ॉर्ट सोची में 22 नवंबर, 2017 को किया गया था, ताकि अस्थाना शांति वार्ता में हुई प्रगति और सीरिया के डी-एस्केलेशन जोन में बदलाव के बारे में चर्चा की जा सके.

नहीं रुकेगा तुर्की 

एर्दोगान ने कहा की “जब तक मानबिज क्षेत्र सहित वाईपीजी / पीकेके नियंत्रण के तहत सभी क्षेत्रों को सुरक्षित नहीं किया जाता है तब तक तुर्की के कदम नहीं रुकेंगे , हम कभी भी सीरिया या हमारे क्षेत्र में आतंकवादी समूहों द्वारा हमला करने नहीं देंगे.”

एर्दोगान ने सीरिया के सनाक्त को हल करने के लिए राजनीतिक समाधान का समर्थन करने के लिए अंतर्राष्ट्रीय समुदाय से भी आग्रह किया.  ईरानी राष्ट्रपति हसन रोहनी ने भी बैठक में कहा  की  “हम चाहते हैं कि सभी लोग सीरिया की एकता को पहचान लें.”

रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने भी कहा की “तुर्की, रूस और ईरान का संयुक्त निर्णय क्षेत्रीय अखंडता और सीरिया की संप्रभुता सुनिश्चित करना है.”

 

Loading...