इस देश के 230,000 लोगों ने एक साथ क़ूबूला इस्लाम, देश में बनी 110 नई मस्जिदें

जापान में बड़े पैमाने पर लोग न केवल इस्लाम धर्म को आकर्षित हो रहे है बल्कि इस्लाम धर्म अपना कर मुसलमान भी बन रहे है। जिनमे बड़ी संख्या युवाओं की है।

वासा यूनिवर्सिटी के तनाडा हिरोफुमी के अनुसार, जापान में रहने वाले मुसलमानों की संख्या पिछले एक दशक में दोगुनी से भी अधिक हो गई है, जो 2010 में 110,000 से बढ़कर 2019 के अंत में 230,000 (50,000 जापानी कंवर्ट सहित) हो गई है।

जानकारी के अनुसार, इस्लाम धर्म अपनाने वालों में रित्सुमीकन एशिया-पैसिफिक यूनिवर्सिटी (APU) में पढ़ाई करने वाले छात्रों की संख्या है। उल्लेखनीय है कि जापान में जन्म दर कम होने से देश की आबादी घट रही है। जिससे भविष्य में जापान में काम करने वाले युवाओं की संख्या घट”ने का खत’ रा पैदा हो गया।

देश में 110 से अधिक मस्जिद हैं। बीप्पू मुस्लिम एसोसिएशन के प्रमुख अब्बास खान कहते हैं कि यह बदलाव स्वागत योग्य है। उन्होंने बताया कि 2001 में जब वे पाकिस्तान से एक छात्र के तौर पर जापान आए थे तब यहां सिर्फ 24 मस्जिदें थीं।

Bolnews.com के अनुसार टोक्यो केमिए, ओकाचीमाची मस्जिद, ओत्सुका मस्जिद, नागोया मस्जिद और डार अल अराकम मस्जिद न केवल सबसे लोकप्रिय और सबसे महत्वपूर्ण मस्जिद हैं।