यूएई: काम के बीच कामगारों को ब्रेक देना हुआ अनिवार्य, नहीं तो मालिक को भरना होगा बड़ा जुर्माना

0
158

हाल ही में यूएई में प्राइवेट सेक्टर में काम करने वाले प्रवासी कामगारों के लिए एक नियम लागू किया गया है जिसके तहत अगर आप ऑफिस में काम कर रहे हैं तो इसके बीच में आपको ब्रेक लेना जरूरी है इसके साथ ही अगर आपका एंप्लॉयया आपका बॉस आपको ब्रेक नहीं देता है तो आप इसके लिए शिकायत कर सकते हैं।

इसी के चलते एक कामगार ने प्रश्न पूछा कि मैंने एक नियम के बारे में पढ़ा है जिसके हिसाब से वर्किंग आर्स दौरान ब्रेक लेना अनिवार्य है अगर मेरा मालिक मुझे ब्रेक नहीं देता है तो इसके मै कहा शिकायत कर सकता हूं ?

इसके जवाब में मिनिस्ट्री ने कहा है कि आप यूएई के अगर प्राइवेट सेक्टर में जॉब कर रहे हैं तो आपके ऊपर रोजगार कानून लागू होगा जिसके तहत आप काम के घंटों के बीच ब्रेक लेने का हकदार है जो कुल मिलाकर 1 घंटे से कम नहीं हो सकता इसके साथ ही एक कर्मचारी बिना ब्रेक के 1 दिन में लगातार 5 घंटे से अधिक काम नहीं कर सकता है।

आगे उन्होंने कहा है कि यह रोजगार कानून के आर्टिकल 18 के अनुसार है जिसमें साफ-साफ यह कहा गया है कि कर्मचारी एक या अधिक ब्रेक के बिना लगातार 5 घंटे से अधिक काम नहीं कर सकता है इसलिए ब्रेक जो होगा वह कुल मिलाकर 1 घंटे से कम नहीं होना चाहिए।

इसी के चलते कानून के हिसाब से एक मालिक को अपने कर्मचारी को वर्किंग आर्स के बीच में ब्रेक देना अनिवार्य है और अगर आपका एंप्लॉय दिन में कम से कम 1 घंटे का या लगातार 5 घंटे काम पूरा करने के बाद आपको कोई ब्रेक प्रदान नहीं करता है तो वह रोजगार कानून का उल्लंघन कर रहा है जिसके लिए वह दंड का पात्र है।

आगे उन्होंने कहा है कि अगर आपका मालिकआपको ब्रेक नहीं दे रहा है तो इसके लिए आप उनसे संपर्क कर सकते हैं और उसके अनुसार छुट्टी ले सकते हैं और अगर आपका मालिक ऐसा नहीं करता है तो आप मानव संसाधन और अमीरात मंत्रालय के साथ शिकायत दर्ज कर सकते हैं इसके बाद भी अगर मालिक और कामगार के बीच कोई समाधान नहीं निकलता है तो आप MOHRE उक्त मामले को रोजगार कानून के अनुच्छेद 54 (2) में उल्लिखित अदालत तक जा सकते है । इसके बाद, आप अदालत में अपने नियोक्ता के खिलाफ रोजगार का मामला दायर करने पर विचार भी कर सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here