Home ताज़ा खबर ‘पीएम की सुरक्षा करने वाला जवान पॉलीथिन में आंत रखकर जीने को...

‘पीएम की सुरक्षा करने वाला जवान पॉलीथिन में आंत रखकर जीने को मजबूर’

111
SHARE

8 सालों से लगातार देश के प्रधानमंत्री की रक्षा करने वाला एसपीजी कमांडो आज तिल-तिल कर जीने को मजबूर है. पिछले चार सालों से ये जवान अपनी आंत को पॉलीथीन में रखकर इलाज के लिए दर-दर भटक रहा है.

दरअसल, 2014 में छत्तीसगढ़ के सुकमा नक्सली मुठभेड़ में सीआरपीएफ़ के जवान मनोज सिंह तोमर गंभीर रूप से घायल हो गए थे. नक्सलियों ने उनके पेट में सात गोलियां दागी थी. हालांकि जैसे-तैसे मनोज की जान तो बच गई. लेकिन वे आज भी दुःख और दर्द ही झेल रहे है.

इलाज के बाद उनकी आंते पेट से बाहर ही रहीं और एक आंख की रोशनी भी चली गई. मनोज पेट से बाहर निकली आंत को पॉलीथिन में लपेटकर जीवन बिताने को मजबूर हैं. अपने इलाज के लिए वे अस्पतालों से लेकर नेताओं के घरों तक चक्कर काट चुके है. लेकिन कोई सुनने वाला नहीं है.

मनोज का कहना है कि उस समय स्पॉट पर इलाज हो गया. लेकिन सही नहीं हो पाया. आज हम अपना इलाज के लिए एम्स के चक्कर काट रहे हैं. किसी मंत्री के बंगले के चक्कर काट रहे हैं कि हमारा इलाज करा दो. सरकार से किसी प्रकार की कोई उम्मीद नहीं रही.

मनोज सिंह तोमर का कहना है कि सरकार के ऐसे बर्ताव से ये महसूस होता है कि सरकार ज़्यादती कर रही है.